Warning: Parameter 2 to qtranxf_postsFilter() expected to be a reference, value given in /home/webplayg/public_html/vayanjan.com/wp-includes/class-wp-hook.php on line 286
मूंग की दाल की कढ़ी - Vayanjan : Vayanjan
Vayanjan App now available for Android. Get it on Google Play

Lang: Hindi

मूंग की दाल की कढ़ी

सामग्री

धूली मूंग की दाल 300 ग्राम दही 500 ग्राम हींग 2-3 चुटकी मेथी दाना 1/2 चम्मच हल्दी पाउडर 1/2 चम्मच अदरक कसा 1 इंच लाल मिर्च पाउडर 1/4 चम्मच हरी मिर्च 2-3 नमक स्वादानुसार तेल तलने के लिए हरा धनिया बारीक कटा 2 चम्मच जीरा 1 चम्मच

विधि

मूंग की दाल को साफ करें, धोएंऔर 2 घंटे के लिये पानी में भिगो दें ।
भीगी हुई दाल पानी से निकाल कर दरदरी पीस लें । पिसी दाल को 2 भागो में बांट लें। दाल के एक भाग को दही फैट कर दही में मिला दीजिये 2 लीटर पानी डाल कर मिला दीजिये, ये कढ़ी के लिये घोल तैयार हो गया।
दूसरे भाग को किसी बर्तन में डाल कर थोड़ा सा धनियां डाल कर अच्छी तरह हाथ या चमचे की सहायता से फैट लीजिये, पकौड़ी बनाने के दाल तैयार है।कढ़ाई में तेल डाल कर गरम कीजिये। गरम तेल में हाथ से थोड़ी सी दाल लेकर गोल पकोड़ियां तोड़ दीजिये, जितनी पकौड़ी तेल में आ सके उतनी पकौड़ी को पलट पलट कर सुनहरा होने तक तल कर किसी प्लेट में निकाल कर रख लीजिये।सारी दाल से इसी तरह पकौड़ी तैयार करके, प्लेट में रख लीजिये।
कढ़ी बनाने के लिये बड़ी कढ़ाई में 2 चम्मच तेल डालिये, आग धीमी रखिये, गरम तेल में हींग, जीरा और मैथी डालकर तड़काइये, हल्दी पाउडर, हरी मिर्च और लाल मिर्च डाल दीजिये। इस मसाले में कढ़ी के लिये तैयार घोल डालिये, कढ़ी को लगातार चलाते हुये तेज आग पर उबाल आने तक पकाइये, उबाल आने के बाद तैयार की गई पकौड़ी और नमक डाल दीजिये और फिर से कढ़ी में उबाल आने तक चलाते रहिये।
फिर से उबाल आने के बाद आग धीमी कर दीजिये और धीमी आग पर कढ़ी को 20 मिनिट तक पकने दीजिये। बीच बीच में 2-3 मिनिट में कढ़ी को चला दीजिये। आप देखेंगे कि कढ़ी पर किनारों पर 
मलाई सी दिखने लगी है।मूंग की दाल की कढ़ी बन गई है। आग बन्द कर दीजिये।
कढ़ी को प्याले में निकालिये।एक छोटी कढ़ाई में 2 छोटी चम्मच तेल डालकर गरम कीजिये, आधा छोटी चम्मच जीरा डालकर तड़्काइये, यदि तीखा पसन्द करते हैं तो 2 – 3 हरी मिर्च लम्बाई में काटकर तड़्के में डाल कर तलिये, आग बन्द कर दीजिये, 1-2 पिंच लाल मिर्च डाल कर मिलाइये और तड़के को कढ़ी के ऊपर डाल कर सजाइये, बचा हुआ हरा धनियां भी कढ़ी के ऊपर डाल दीजिये।
सुझाव
दही ताजा है या खट्टा नहीं है, तब कढ़ी उतनी खट्टी नहीं बनती, कढ़ी को खट्टी करने के लिये, कढ़ी बनने के बाद एक नीबू का रस निकाल कर मिला दीजिये, कढ़ी खट्टी और स्वादिष्ट बन जायेगी।
मूंग दाल की जगह आप चने की की दाल की कढी बनाना चाहते हैं तो बस मूंग दाल की जगह चने की दाल लेकर इसी तरह से चने की दाल की कढ़ी बना लीजिये।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.